Hanuman jayanti 2024

भक्तो की रक्षा करने वाले हनुमान जी का दिन हनुमान जयंती हिन्दू पंचांग के अनुसार चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की पूर्णिमा को मनाई जाती है।

हनुमान जयंती के दिन आप निम्नलिखित कार्यों को करना चाहिये:

  1. हनुमान चालीसा का पाठ: हनुमान चालीसा का पाठ करना हनुमान जयंती के अवसर पर बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है।
  2. हनुमान मंदिर जाना: हनुमान जी के मंदिर में जाकर पूजा और अर्चना करना।
  3. भजन संध्या: हनुमान जी के भजनों का संगीत सुनना और उन्हें गाना।
  4. सेवा: अनाज, कपड़े, या अन्य आवश्यकताओं के रूप में गरीबों की सेवा करना।
  5. कथा और कथाकार सुनना: हनुमान जी के कथा और उनकी कृपा के विषय में कथाकारों की कथाएं सुनना।
  6. प्रार्थना: हनुमान जी से अपनी मनोकामनाओं की प्रार्थना करना और उनसे आशिर्वाद मांगना।
  7. ध्यान और मनन: हनुमान जी के आदर्शों और गुणों का ध्यान और मनन करना।

ये सभी कार्य आपको हनुमान जयंती के दिन आध्यात्मिक और सामाजिक रूप से समृद्धि और शांति की प्राप्ति में सहायक होते हैं।

Hanuman mantra– ||OM HAMM HANUMANTE HAMM NAMAHA|| ॥ॐ हं हनुमंते हं नमः॥

हनुमान जयंती के दिन पूजा करने से अनेकों लाभ मिलते हैं, जैसे कि:

  1. आध्यात्मिक उन्नति: हनुमान जी की पूजा से आपकी आध्यात्मिक उन्नति होती है। उनके भक्ति में लगने से मन और आत्मा में शांति और संतोष की भावना होती है।
  2. कष्ट निवारण: हनुमान जी को संकट मोचन के रूप में जाना जाता है, इसलिए उनकी पूजा से कष्ट और संकटों का निवारण होता है।
  3. शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य: हनुमान जी की पूजा से शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार होता है। उनकी कृपा से रोगों का उपचार होता है और मानसिक चिंताओं को दूर किया जा सकता है।
  4. धन और समृद्धि: हनुमान जी की पूजा से धन और समृद्धि की प्राप्ति होती है। उनके आशीर्वाद से आपके जीवन में आर्थिक स्थिति में सुधार होता है।
  5. बल और साहस: हनुमान जी बल और साहस के प्रतीक हैं। उनकी पूजा से आपको बल, साहस और सही निर्णय लेने की क्षमता प्राप्त होती है।

इन सभी लाभों के साथ-साथ, हनुमान जयंती के दिन पूजा करना भक्ति और श्रद्धा की भावना को बढ़ावा देता है और आपको आध्यात्मिक दिशा में आगे बढ़ने में सहायक होता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *