Loading...

भीमाशंकर मंत्र / Bhimashankar Mantra

भीमाशंकर उनके एक विशेष अवतार के लिए हैं, जो भीमराज नामक राक्षस के वध के बाद शिव द्वारा उनके उत्तर की प्राप्ति के लिए कहा जाता है। यहां भीमाशंकर को स्वयंभू मूर्ति के रूप में पूजा जाता है और इसका विशेष धार्मिक महत्व है।

भीमाशंकर मंत्र और लाभ:

|| ॐ भीमाशंकराय नमः ||

  • सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।
  • भगवान शिव की कृपा प्राप्त होती है।
  • पापों का नाश होता है।
  • मोक्ष प्राप्त होता है।

भीमाशंकर पूजन मुहूर्त:

  1. महाशिवरात्रि: महाशिवरात्रि के दिन भी भीमाशंकर पूजन का मुहूर्त अत्यधिक शुभ माना जाता है।
  2. रविवार: रविवार को भीमाशंकर पूजन के लिए शुभ माना जाता है, खासकर श्रावण मास में।
  3. प्रदोष काल: प्रदोष काल में भी पूजन का मुहूर्त अच्छा होता है।
  4. श्रावण मास: श्रावण मास में, जो भगवान शिव के अनुपात में होता है, भीमाशंकर पूजन का मुहूर्त अधिक शुभ माना जाता है।
  5. पूर्णिमा: पूर्णिमा के दिन भी भीमाशंकर पूजन का मुहूर्त उत्तम माना जाता है।

About Bhimashankar Mantra:

|| Om Bhimashankaraya Namah ||

  1. Prosperity
  2. Physical Health
  3. Peace of Mind
  4. Relief from Troubles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

INR
USD
EUR
AUD
GBP
INR
USD
EUR
AUD
GBP