Loading...

माता धन लक्ष्मी / Dhan lakshmi mantra

माता धन लक्ष्मी, देवी लक्ष्मी का प्रमुख रूप है, जो धन, समृद्धि, और संपदा को बढाने वाली मानी जाती है. बहुत ही जल्दी प्रसन्न होने वाली ये माता मनुष्य की सभी इच्छाओ को पूर्ण करती है

माता का स्वरूप:

  • मां धन लक्ष्मी को आमतौर पर कमल के फूल पर बैठी, सोने के सिक्के बरसाते हुए चित्रित किया जाता है।
  • उन्हें चार हाथों से युक्त दिखाया जाता है, जिनमें से प्रत्येक में एक अलग वस्तु होती है:
    • ऊपरी दायां हाथ: कमल का फूल (ज्ञान और सौंदर्य का प्रतीक)
    • ऊपरी बायां हाथ: अक्षयपात्र (अनंत धन का प्रतीक)
    • नीचे दायां हाथ: मुद्रा (धन का प्रतीक)
    • नीचे बायां हाथ: कमल का फूल (शुद्धता और समृद्धि का प्रतीक)
  • धन लक्ष्मी को अक्सर उल्लू, हाथी, और शेर जैसे जानवरों के साथ भी चित्रित किया जाता है, जो कि अलग-अलग गुणों का प्रतीक माना जाता हैं।

पूजा का महत्व:

  • धन लक्ष्मी की पूजा विभिन्न तरीकों से की जाती है, जिसमें स्तोत्र, मंत्र, और आरती शामिल हैं।
  • शुक्रवार को धन लक्ष्मी की पूजा के लिए विशेष दिन माना जाता है।
  • धन लक्ष्मी की पूजा करने से भक्तों को धन, समृद्धि, और भौतिक सुख प्राप्त होता है।
  • धन लक्ष्मी को घर में रखने से सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है और नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है

धन लक्ष्मी मंत्रः ॥ॐ ऐं श्रीं धनलक्ष्मेय नमः॥

मुहुर्थः शुक्रवार, गुरु पुष्य नक्षत्र, होली, दीपावली.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

INR
USD
EUR
AUD
GBP
INR
USD
EUR
AUD
GBP