Katyayani mantra for relationship

कात्यायनी मंत्रः प्रेम प्रणय विवाहित जीवन मे सफलता के लिये

कात्यायनी माता देवी दुर्गा का छठा स्वरूप हैं। माता कात्यायनी की पूजा नवरात्रि के छठे दिन की जाती है।

कात्यायनी माता, हिंदू धर्म की एक प्रमुख देवी हैं जो नवरात्रि के नौ दिवसीय उत्सव के दौरान इनकी पूजा की जाती हैं. इनकी पूजा प्रेम-प्रणय, संबंधो को मजबूत करने व विवाहित जीवन को सफल बनाने के लिये की जाती है.

  • कात्यायनी मंत्रः ॥ॐ ह्रीं कात्यायने दुं नमः॥
  • मुहुर्थः मंगलवार, नवरात्रि
  • शत्रुओं पर विजय प्राप्त होती है।
  • मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।
  • विवाह में आने वाली बाधाएं दूर होती हैं।
  • सुख-समृद्धि और सफलता प्राप्त होती है

कात्यायनी माता को वाहन सिंह होता है जो कि माँ दुर्गा की शक्ति और साहस का प्रतीक माना जाता हैं। उन्हें भक्ति, समृद्धि, और सफलता की प्राप्ति का प्रतीक माना जाता हैं। कात्यायनी माता की पूजा, परंपरागत रूप से नवरात्रि के दौरान की जाती हैं, जिसमें भक्तों द्वारा उनके गुणों की स्तुति और उनकी कृपा के लिए प्रार्थना की जाती हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *