ग्रह यक्षिणी / Graha Yakshini Mantra

नवग्रहो को शांत करने वाली ग्रह यक्षिणी एक प्रकार की यक्षिणी है जो ग्रहों की शांति और उनके शुभ प्रभाव को बढ़ाने में मदद करती है। ये यक्षिणी विशेष रूप से नवग्रहों के प्रति समर्पित होती हैं और उन्हें प्रसन्न करने के लिए पूजा, मंत्र जप, और अन्य उपाय किए जाते हैं। ग्रह यक्षिणी के मंत्र और पूजा का पालन करने से ग्रहों की दशा में सुधार हो सकता है और जीवन में समृद्धि और शांति की प्राप्ति हो सकती है।

ग्रह यक्षिणी का मंत्र:

|| ॐ ह्रीं नवग्रहाय यक्षिणी नमः ||

ग्रह यक्षिणी मंत्र के लाभ:

  • ग्रहों की दशा में सुधार करता है।
  • ग्रहों के अशुभ प्रभावों को दूर करता है।
  • जीवन में समृद्धि, शांति, और सुख की प्राप्ति में मदद करता है।
  • उत्तम स्वास्थ्य और मानसिक क्षमता को बढाता है।

ग्रह यक्षिणी की पूजा को नवग्रहों के प्रति भक्ति और समर्पण के साथ किया जाता है। इसे सामान्यतः गुरुवार के दिन किया जाता है, क्योंकि गुरुवार बृहस्पति ग्रह के लिए शुभ माना जाता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *